बालों में कलर कराने के नुकसान

hair colouring: बालों को कलर करवाना बहुत लोगो का शौक बन चुका है लोग पैसा खर्च करने से भी पीछे नहीं हटते है लोग अपने बालों को सजने सवारने और रंग बिरंगे बनाने के लिए क्या कुछ नहीं करते मगर क्या आप जानते है इसके नुकसान क्या है। क्या आपने कभी इनके बारे में सुना है? नहीं सुना तो आज हम आपको बताएँगे इसके साइड इफेक्ट्स के बारे में।

Hair color side effects
Image by pixabay
तो चलिए जानते है हेयर कलरिंग के साइड इफेक्ट्स…

हेयर कलर के नुकसान – hair colouring side effects

कैंसर की संभावना
यूरोप और अमेरिका में बालों में रंग कराने वाले लोगो में कैंसर के लक्षण पाए गए, जिससे ये साबित हुआ की बालों में कलर कराने से कैंसर का खतरा बढ़ जाता है दरअसल बालों की डाई को कई केमिकल्स मिलाकर तैयार किया जाता है जिससे कैंसर का खतरा काफी बढ़ जाता है। 
 
आंखों को नुकसान
बालों पर कलर कराने से आंखों पर भी प्रभाव पड़ता है हेयर कलर करने से आंखों की रौशनी धीरे-धीरे कम होने लगती है। 
 
दमा
दमा अस्थमा वाले रोगियों को इसके उपयोग से बचना चाहिए क्योकि इसमें मौजूद परसल्फेट नाम का एक केमिकल होता है जिससे स्मेल गंध को सूंघने से सांस संभंधित परेशानियां बढ़ जाती है।
 
एलर्जी भी हो सकती है
बालों में कलर कराने से एलर्जी भी हो सकती है ऐसे में बिना टेस्ट किये इसके इस्तेमाल से आपके शरीर में खुजली दाने जैसी समस्या हो सकती है। 
 
बालों का झड़ना
जो कलर बालों में किया जाता है उसमे अमोनिया होता है जोकि बालों के लिए बहुत नुकसान दायक होता है जिससे बालों की दुर्बलता बढ़ जाती है।
 
नर्वस सिस्टम (तंत्रिका तंत्र)
बालों में कलर के इस्तेमाल से तंत्रिका तंत्र यानि नर्वस सिस्टम पर भी इसका प्रभाव पड़ता है जिससे भूलने की समस्या और नर्वस डिसऑर्डर हो सकता है।
 
बालों के विकास पर असर
इससे आपके बालों के विकास पर भी असर पड़ता है जिससे नए बालों को बनने में कठिनाई होती है।
 
अंत में हम आपको यही सलाह देंगे की जितना हो सके इन सब चीजों से दूर रहे।

1 thought on “बालों में कलर कराने के नुकसान”

Leave a Comment